पीरियड मिस होने के 10 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे

Spread the love

पीरियड मिस होने के 10 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे: जब किसी महिला के पीरियड्स मिस हो जाते हैं, तो उसे सबसे पहले उसके मन में एक सवाल उठता है – क्या वह गर्भवती है? लेकिन कई बार, जब वे प्रेग्नेंसी टेस्ट करती हैं, तो रिजल्ट नेगेटिव होता है।

क्या पीरियड्स मिस होना गर्भधारण के बिना भी संभव है? ऐसे में, वे हैरान हो जाती हैं कि पीरियड्स मिस होने का क्या कारण हो सकता है और यह क्यों हो रहा है। इन्हीं सवालों का जवाब आपको इस (पीरियड मिस होने के 10 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे) ब्लॉग में मिलेगा।

पीरियड मिस होने के 10 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे?- if pregnancy is negative even after 10 days of missed period?

अगर आपको लगता है कि आप गर्भवती हैं लेकिन परीक्षण नकारात्मक है तो क्या करें? पीरियड्स का मिस होना और नेगेटिव प्रेग्नेंसी टेस्ट का रिजल्ट आना काफी सामान्य है। फिर वो चाहे पीरियड मिस होने के 7 दिन बाद या पीरियड मिस होने के 20 दिन बाद इसका मतलब है कि प्रेग्नेंसी के अलावा भी कई दूसरे कारण हो सकते हैं,

इसे भी पड़ें   Sperm Count Kaise Badhaye in Hindi - स्पर्म बढ़ाने के घरेलू उपाय

जो पीरियड्स के न आने का कारण (period miss hone ke reason) बन सकते हैं। इसमें स्ट्रेस का भी बहुत अहम योगदान होता है। ज्यादा तनाव लेने से हार्मोनल संतुलन पर असर पड़ता है, जिससे मासिक चक्र पर प्रभाव पड़ता है। यदि आप लंबे समय तक स्ट्रेस, Anxiety में रहते हैं, तो आपके मासिक मासिक चक्र की अनियमितता हो सकती है।

इसे भी पड़ें- प्रेगा न्यूज़ प्रेगनेंसी टेस्ट कितने दिन बाद करना चाहिए, पूरी जानकारी

पीरियड मिसिंग प्रॉब्लम, यह एक संकेत है कि जब आप ज्यादा स्ट्रेस में होते हैं तो आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए सही आहार और व्यायाम की जरूरत होती है। एक और कारण हो सकता है एनोवुलेशन का न होना, जिसे हम ‘अनोवुलेशन‘ कहते हैं। यह एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसमें ओवरी में से अंडा निकलता है, लेकिन कुछ स्वास्थ्य समस्याओं के कारण यह प्रक्रिया बाधित हो सकती है। इससे मासिक चक्र में अनियमितता हो सकती है और इससे इनफर्टिलिटी का खतरा भी हो सकता है।

इसके इलावा कुछ दवाओं और स्वास्थ्य समस्याओं के कारण भी पीरियड्स का मिस होना या देरी से आना संभव होता है। इसलिए, अगर आपके पीरियड्स मिस हो रहे हैं और आपको कोई लक्षण नहीं नजर आ रहे हैं, तो डॉक्टर से परामर्श करना अच्छा होगा।

इसे भी पड़ें- मेनोपॉज के दौरान शारीरिक संबंध बनाये जा सकते हैं क्या, पूरी जानकारी

पीरियड मिस होने से पहले प्रेगनेंसी टेस्ट कब करे – When to do pregnancy test before missing period

संभोग करने के बाद जब आपके पीरियड्स मिस हो जाते हैं तो आपके मन में पहला सवाल यह होता है की क्या में प्रेग्नेंट हूँ , तो यही प्रेग्नेंसी टेस्ट करने का समय होता है। अगर आप सटीक प्रेग्नैंसी रिजल्ट्स चाहते हैं, तो यह सुझाव दिया जाता है कि आप 8 से14 दिनों के बाद टेस्ट करें, क्योंकि इस समय पर आपके शरीर में गर्भावस्था के शुरूआती लक्षण उभर सकते हैं और टेस्ट की सहीता भी बढ़ जाती है। अगर आपको संदेह है या आपको लगता है कि आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं, तो टेस्ट को जल्दी ही करने का विचार भी ठीक हो सकता है।

इसे भी पड़ें   क्या आपके भी संभोग के बाद गुप्तांग में खुजली और जलन होती है, जानिए कारण और उपाए

इसे भी पड़ें- प्राइवेट पार्ट में खुजली के घरेलू उपाय, Khujli से हमेशा के लिए छुटकारा

पीरियड मिस होने के 20 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे? – What to understand if negative results come even after 20 days of missed periods

पीरियड्स मिस होने के 20 दिन बाद भी प्रेग्नेंसी टेस्ट नेगेटिव आ रहा है, तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। सबसे पहले, ऐसा हो सकता है कि आपके शरीर में गर्भावस्था के लक्षण अभी दिखाई नहीं दे रहे हों। कई बार प्रेग्नेंसी के शुरूआती लक्षण थोड़े समय बाद ही दिखाई देते हैं।


दूसरा, अगर आपके मासिक धर्म अनियमित हैं, तो यह भी एक कारण हो सकता है कि टेस्ट नेगेटिव आ रहा है। तीसरा, कभी-कभी टेस्ट में गलती हो जाती है, जिससे गलत परिणाम आता है। अगर आपको लगता है कि आप गर्भवती हो सकती हैं, तो आपको डॉक्टर या गायोनोकॉलजिस्ट से मिलकर सलाह लेनी चाहिए। डॉक्टर या गायोनोकॉलजिस्ट ही आपकी कंडीशन का सही अनुमान लगा सकता है।

निष्कर्ष

इस ब्लॉग में (पीरियड मिस होने के 10 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे) हमने यह बताया है कि,अगर आपके पीरियड्स मिस हो गए हैं फिर भी आपका प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आ रहा है उस कंडीशन में आपको क्या करना चाहिए और पीरियड मिस होने के क्या क्या कारण हो सकते हैं। पर सबसे अच्छा यह रहेगा की अगर आपको पीरियड्स नहीं आ रहे हैं तो आपको किसी स्पेश्लिष्ट गायनोकोलॉजिस्ट से सलाह लेनी चाहिए। एक विशेषज्ञ ही आपकी प्रॉब्लम का सही इलाज बता सकता है।

इसे भी पड़ें   पीरियड लाने का उपाय - असरदार और घरेलू तरीका

इइन्हें भी पड़ें

Anxiety in Hindi: एंग्जायटी क्या है, लक्षण, कारण और उपचार

1 दिन में कितनी बार करना चाहिए सेक्स, अगर चाहती हैं प्रेगनेंसी

हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण

Leave a Comment