Anxiety in Hindi: एंग्जायटी क्या है, लक्षण, कारण और उपचार

Spread the love

Anxiety in Hindi, शरीर में बेचैनी और घबराहट, आज के दौर में जीवन में होने वाले तनाव, निराशा और डर की भावना इंसान को अक्सर एंग्जायटी या बेचैनी का सामना करना पड़ता है। यह स्थिति जीवन को ज्यादातर समय डर और चिंता में डाल देती है, जिससे किसी भी स्थिति में इंसान को चैन नहीं मिलता है और हमेशा बेचैनी बनी रहती है। इस बेचैनी और घबराहट को हम हमेशा के लिए ठीक कर सकते है। आज इस लेख में हम जानेंगे नींद ना आना बेचैनी होना, कंपकंपी, पसीना, घबराहट, एंजाइटी के लक्षणों से राहत पाने के कुछ गरेलु उपाए।

एंग्जायटी के कारण | Anxiety in Hindi

जैसे की हम अक्सर देखे हैं, एंजाइटी के कई तरह के कारण हो सकते हैं। जिसमें कुछ लक्षण हैं- परीक्षा, नौकरी, आर्थिक समस्याएं, रिलेशनशिप की प्रॉब्लम, ज्यादा वर्कलोड, तलाक, या किसी भी चीज की चिंता, इन सभी कारणों से एंग्जायटी या घबराहट की समस्या पैदा हो सकती है। साथ ही, तनाव, ब्लडप्रेशर, हाई कोलेस्ट्रोल जैसी बीमारियों का सामना करते हुए भी एंजाइटी का अहसास हो सकता है।

एंजाइटी के लक्षण | Symptoms of Anxiety

Anxiety in Hindi, एंजाइटी के लक्षणों में व्यक्ति बहुत ही चिंतित, डरा हुआ और कंफ्यूज महसूस करता है। सुबह उठते ही घबराहट और डर का सामना करता है। एंग्जायटी में इंसान का अपने विचारों पर कंट्रोल नहीं रहता हमेशा दिमाग में कुछ ना कुछ चलता रहता है बार-बार तनाव और छठपटाहट, तेज धड़कन, सांस लेने में कठिनाई, और पसीना भी एंजाइटी के आम लक्षण हो सकते हैं।

इसे भी पड़ें   कैसे पता करें कि महिला दूसरे के संपर्क में हैं, 9 संकेत पत्नी धोखा दे तो कैसे पहचाने

एंग्जायटी का इलाज | Anxiety treatment

एंग्जायटी की स्थिति में डॉक्टर से मिलना चाहिए अगर किसी को एंग्जायटी अटैक होता है, इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन्हें अपनी जीवनशैली में बदलाव करना चाहिए, रोजाना व्यायाम करना चाहिए और हर हाल में अल्कोहल और स्मोकिंग से दूर रहना चाहिए। एंग्जायटी से छुटकारा पाने के लिए 7-8 घंटे की रात की नींद बहुत महत्वपूर्ण है, जो आपकी मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकती है।

एंग्जायटी में क्या खाना चाहिए | What to eat during anxiety?

एंजाइटी को दूर करने के लिए काली बेरी, पालक, स्ट्रॉबेरी और अन्य एंटीऑक्सिडेंट फल और सब्जियां अपने आहार में शामिल करें। ये एंजाइटी को कम करने में मदद कर सकते हैं। Anxiety in Hindi, एंजाइटी को कम करने में अखरोट, चिया सीड्स और फिश जैसे ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर आहार भी मदद कर सकते हैं। दही, मांस, दाल जैसे प्रोटीन स्रोतों को सही मात्रा में शामिल करें। मैग्नीशियम युक्त भोजन, डार्क चॉकलेट, साबुत अनाज, टोफू,पत्तेदार साग आदि भी तनाव कम कर सकते हैं। एंजाइटी को कम करने के लिए बादाम और अखरोट को हेल्दी स्नैक्स में शामिल करें। हर्बल टी और गुलाबजाल भी एंजाइटी का इलाज करने में फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

निष्कर्ष

इस ब्लॉग में Anxiety in Hindi यह बताया गया गया है, एंग्जायटी एक मानसिक समस्या है जो व्यक्ति को चिंता, डर, और असुरक्षा की भावना में डाल सकती है। यह जीवन की सभी पहलुओं से जुड़ी हो सकती है, जैसे कि स्वास्थ्य, नौकरी, रिश्ते इसके कारण व्यक्ति नर्वस महसूस करता है और अक्सर अपने आत्मविश्वास में कमी का सामना करता है।

इसे भी पड़ें   Shambhavi Mahamudra in Hindi: शांभवी महामुद्रा के फायदे, नुकसान पूरी जानकारी

डिस्क्लेमर:

इस ब्लॉग में Anxiety in Hindi (एंग्जायटी क्या है, लक्षण, कारण और उपचार) मौजूद किसी भी उपाय, आहार या दवा को इस्तेमाल करने से पहले हमेशा किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर से सलाह जरूर लें। Upayehealth.com इस जानकारी के लिए किसी भी तरह की जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है। कृपया अपनी समझदारी से काम लें।

इन्हें भी पड़ें

फैटी लीवर का खुद इलाज करने के तरीके, जानिए डाइटप्लान, कारण और लक्षण

कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज, सम्पूर्ण जानकारी

Leave a Comment