यूरिन में ब्लड आना, कारण, लक्षण और इलाज – हेमट्यूरिया

Spread the love

यूरिन में ब्लड आना, जिसे मेडिकल भाषा में हेमट्यूरिया (Hematuria) कहा जाता है, एक सामान्य लेकिन काफी गंभीर स्वास्थ्य समस्या हो सकती है। यह समस्या किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है और इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। हेमट्यूरिया को समझना, इसके कारणों की पहचान करना और सही इलाज करवाना बहुत जरूरी है। इस ब्लॉग में हम यूरिन में ब्लड आने के कारण, लक्षण और इलाज के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे।

यूरिन में ब्लड आना, हेमट्यूरिया के प्रकार (Blood in urine & types of hematuria)

यूरिन में ब्लड आना, या हेमट्यूरिया, एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है। यह किसी भी उम्र के इंसान पर असर डाल सकता है और देखा जाये तो इसके पीछे कई संभावित कारण हो सकते हैं। हेमट्यूरिया दो प्रकार का होता है। पेहला, माइक्रोस्कोपिक हेमाटुरिया, जिसमें ब्लड केवल माइक्रोस्कोप से देखा जा सकता है, और दूसरा सुपरफिशियल हेमट्यूरिया, जिसमें ब्लड को स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। स्वास्थ्य संबंधी प्रॉब्लम्स से बचने के लिए, इस समस्या को गंभीरता से लेना और सही समय पर इलाज करना जरूरी है।

यूरिन में ब्लड आने के कारण (Reasons for blood in urine)

पेशाब के रास्ते से खून आना कौन सी बीमारी है– यूरिन में ब्लड आने, जिसे Hematuria कहा जाता है, के कई कारण हो सकते हैं। पेशाब से खून आने के कारण, यह स्थिति यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (यूटीआई), गुर्दे की पथरी, प्रोस्टेट समस्याएं, गुर्दे की बीमारियां, ब्लैडर या गुर्दे का कैंसर, कुछ दवाइयों के दुष्प्रभाव या बहुत ज्यादा जोर लगाने के कारण हो सकती है। Hematuria के कारण का पता लगाना और समय पर सही इलाज करवाना बेहद जरूरी है ताकि किसी गंभीर स्वास्थ्य समस्या से बचा जा सके।

  • यूटीआई : यूटीआई (Urinary Tract Infection) यूरिनरी सिस्टम में बैक्टीरिया के संक्रमण के कारण होता है। इससे यूरिन में ब्लड आ सकता है।
  • गुर्दे की पथरी : गुर्दे की पथरी (Kidney Stones) यूरिनरी ट्रैक्ट में अवरोध पैदा करती है, जिससे ब्लड आ सकता है।
  • प्रोस्टेट समस्याएं: प्रोस्टेट ग्रंथि की सूजन या प्रोस्टेट कैंसर भी हेमाटुरिया का कारण हो सकते हैं।
  • गुर्दे की बीमारियां: गुर्दे की विभिन्न बीमारियां, जैसे कि ग्लोमेरुलोनेफ्राइटिस, यूरिन में ब्लड आने का कारण बन सकती हैं।
  • ब्लैडर या गुर्दे का कैंसर: ब्लैडर या गुर्दे का कैंसर भी हेमाटुरिया का कारण हो सकता है।
  • दवाइयों का असर: कुछ दवाइयां, जैसे कि एंटीकोआगुलेंट्स और एंटीबायोटिक्स, यूरिन में ब्लड आने का कारण बन सकती हैं।
  • शारीरिक गतिविधि: बहुत ज्यादा जोर या व्यायाम भी यूरिन में ब्लड आने का कारण बन सकता है।
इसे भी पड़ें   Oh Boy Capsule ke Fayde or Nuksan in Hindi

हेमट्यूरिया के लक्षण (Symptoms of Hematuria)

यूरिन में ब्लड आने के लक्षण कई तरह के हो सकते हैं और यह इस पर निर्भर करता है कि इसके पीछे का कारण क्या है।

  • यूरिन का रंग बदलना: यूरिन का रंग गुलाबी, लाल या चाय जैसा हो सकता है।
  • दर्द या जलन: यूरिन पास करते समय दर्द या जलन हो सकती है।
  • बार-बार यूरिन पास करना: यूरिन पास करने की आवृत्ति बढ़ सकती है।
  • बुखार और ठंड लगना: यूटीआई के कारण बुखार और ठंड लग सकती है।
  • पेट या पीठ में दर्द: गुर्दे की पथरी या अन्य गुर्दे की समस्याओं के कारण पेट या पीठ में दर्द हो सकता है।

हेमट्यूरिया का पता कैसे लगाएं? (How to detect hematuria?)

  • यूरिन टेस्ट: यूरिन का नमूना लेकर उसमें ब्लड सेल्स, बैक्टीरिया और प्रोटीन की जांच की जाती है।
  • ब्लड टेस्ट: ब्लड टेस्ट से गुर्दे की कार्यक्षमता और अन्य संबंधित समस्याओं का पता लगाया जाता है।
  • इमेजिंग टेस्ट: अल्ट्रासाउंड, सीटी स्कैन या एमआरआई के जरिए गुर्दे, ब्लैडर और अन्य अंगों की जांच की जाती है।
  • सिस्टोस्कोपी: सिस्टोस्कोपी के जरिए ब्लैडर और यूरेथ्रा की जांच की जाती है।

हेमट्यूरिया का इलाज (Treatment of hematuria)

हेमाटुरिया के इलाज के लिए सबसे पहले इसके कारण का पता लगाना जरूरी है। इलाज का तरीका कारण पर निर्भर करता है। यहां कुछ सामान्य इलाज दिए गए हैं

  • एंटीबायोटिक्स: यदि हेमाटुरिया का कारण यूटीआई है, तो एंटीबायोटिक्स से इसका इलाज किया जा सकता है।
  • पथरी निकालना: गुर्दे की पथरी को निकालने के लिए दवाइयों, लिथोट्रिप्सी या सर्जरी का सहारा लिया जा सकता है।
  • प्रोस्टेट का इलाज: प्रोस्टेट की समस्याओं का इलाज दवाइयों या सर्जरी के जरिए किया जा सकता है।
  • कैंसर का इलाज: कैंसर का इलाज कीमोथेरेपी, रेडियोथेरेपी या सर्जरी के जरिए किया जा सकता है।
इसे भी पड़ें   शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि, लिंग को बनाए लोहे जैसा मजबूत

निष्कर्ष

यूरिन में ब्लड आना एक गंभीर समस्या हो सकती है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। इसके कई कारण हो सकते हैं और इसका सही इलाज और इलाज बहुत है। अगर आपको यूरिन में ब्लड आने की समस्या हो रही है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और सही टेस्ट कराएं। समय पर निदान और सही इलाज से इस समस्या से निपटा जा सकता है और गंभीर परिणामों से बचा जा सकता है।

इन्हें भी पड़ें –

लड़कियां क्यों करवाती हैं बॉडी मसाज | लड़कियां किस उम्र में ज्यादा करवाती है मसाज

गर्मी से बचने के लिए 6 हेल्दी ड्रिंक्स, जो करेंगे आपको तरोताजा

सेब का सिरका पीने के फायदे और नुकसान – Apple Cider Vinegar

Leave a Comment